बंगाल के लिए BJP की पहली लिस्ट:भाजपा ने पहले और दूसरे फेज के लिए 57 कैंडिडेट्स के नामों का ऐलान किया, नंदीग्राम में ममता और शुभेंदु के बीच मुकाबला

पश्चिम बंगाल में जारी चुनावी घमासान अब और रोचक होने जा रहा है। राज्य की सबसे चर्चित सीट नंदीग्राम पर सबसे बड़ा सियासी मुकाबला होगा। यहां राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और तृणमूल छोड़कर BJP में आए शुभेंदु अधिकारी आमने-सामने होंगे। ममता ने शुक्रवार को खुद नंदीग्राम से चुनाव लड़ने का ऐलान किया था, तो BJP ने शनिवार को नंदीग्राम से शुभेंदु के नाम की घोषणा कर दी।

BJP ने शनिवार को राज्य में पहले और दूसरे फेज की 60 में से 57 सीटों पर कैंडिडेट्स के नाम का ऐलान किया। पार्टी महासचिव अरुण सिंह ने कहा कि बाघमुंडी सीट सहयोगी दल आसजू के लिए छोड़ी गई है। वहीं 2 सीटों पर नामों का ऐलान फिलहाल नहीं किया गया है। इस सूची में सबसे चर्चित नाम शुभेंदु अधिकारी का ही है। अधिकारी के अलावा लिस्ट में अशोक डिंडा, डाॅ. भारती घोष, तापसी मंडल और अंतरा भट्‌टाचार्य जैसे बड़े नाम शामिल हैं।

पहले फेज की 29 सीटों पर BJP उम्मीदवार

सीट BJP कैंडिडेट
पटशपुर डॉ. अम्बुजाक्षा महंती
कंठी उत्तर सुनीता सिंघा
भागबनपुर रबिन्द्रनाथ मैती
खेजुरी (अजा) शांतनु प्रामाणिक
कांति दक्षिण अरूप कुमार दास
रामनगर स्वदेश रंजन नायक
एग्र अरूप दास
दांतन शक्ति पद नायक
नयाग्राम (अजजा) श्री वाकुल मुरमू
गोपीबल्लपुर संजीत महतो
झारग्राम सुखमय सतपति
केशरी सोनाली मुर्मू
खड़गपुर तपन भुइया
गर्बेटा मदन रुईदास
सालबोनी राजीब कुंडू
मेदिनीपुर शमित दास
बिनपुर पालन सरीन
बांदवान पारसी मुरमू
बलरामपुर बनेस्वर महतो
बाघमुंडी अजसु (AJSU)
जॉयपुर नाराहरी महतो
पुरुलिया सुदीप मुखर्जी
मनबाजार गौरी सिंह सरदार
पैरा नादिया चंद बाउरी
रघुनाथपुर एडवोकेट विवेकानंदा बाउरी
साल्टोरा चंदना बाउरी
छठना सत्यनारायण मुखर्जी
रानीबांध खुदीराम टुडू
रायपुर सुधांगशु हंसदा

लिस्ट जारी करते समय कोई बड़ा नेता मौजूद नहीं रहा
नई दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह शाम 6.30 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस कर प्रत्याशियों के नामों का ऐलान किया। देश के सबसे अहम चुनाव के लिए कैंडिडेट्स के नामों का ऐलान करने के दौरान पार्टी का कोई बड़ा नेता मौजूद नहीं था। सिंह ने कहा कि कोलकाता में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बड़ी रैली होनी है, इसलिए कोई और बड़ा नेता यहां नहीं है।

बंगाल की राजनीति भी शुभेंदु बनाम ममता में बदली
शुभेंदु अधिकारी के TMC छोड़कर BJP में आने के बाद से ही पश्चिम बंगाल की राजनीति ममता बनाम शुभेंदु में बदल गई थी। ममता बनर्जी ने करीब 2 महीने पहले पहली बार नंदीग्राम से चुनाव लड़ने का ऐलान किया था। तभी शुभेंदु अधिकारी ने कहा था कि मुझे ममता का चैलेंज मंजूर है। मैं उन्हें हराकर दिखाऊंगा, वरना राजनीति छोड़ दूंगा। 2016 में शुभेंदु अधिकारी ने यहीं से चुनाव जीता था। बंगाल के पूर्वी मिदनापुर में नंदीग्राम को शुभेंदु का गढ़ माना जाता है। उन्होंने दावा किया था कि अगर पार्टी मुझे नंदीग्राम से चुनाव लड़ने का मौका देती है तो मैं ममता बनर्जी को कम से कम 50 हजार वोट से हरा दूंगा। अब जब भाजपा ने उनके नाम का ऐलान कर दिया है, तो दीदी और अधिकारी के मुकाबले पर ही सबकी नजर है।

TMC ने कल 291 कैंडिडेट के नामों का ऐलान किया था
पश्चिम बंगाल चुनाव के लिए तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने शुक्रवार को 291 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की थी। शुक्रवार को ममता बनर्जी अपने लिए शुभ मानती हैं। पिछले विधानसभा चुनाव के वक्त भी ममता ने शुक्रवार को ही यह लिस्ट जारी की थी।

ममता की लिस्ट में 100 चेहरों को पहली बार मौका
TMC की लिस्ट में 100 ऐसे चेहरे हैं, जिन्हें पहली बार मौका दिया जा रहा है। TMC बंगाल की पहली पार्टी है, जिसने चुनाव के लिए अपने उम्मीदवारों का ऐलान किया है। इनमें 50 महिलाएं और 42 मुस्लिम उम्मीदवार शामिल हैं।

दार्जिलिंग की 3 सीटों पर पार्टी चुनाव नहीं लड़ेगी। ये सीटें पार्टी के सहयोगियों के लिए छोड़ी गई हैं। ममता ने कहा कि वे खुद नंदीग्राम सीट से चुनाव लड़ेंगी। नंदीग्राम को ममता के करीबी रहे और अब भाजपा में शामिल शुभेंदु अधिकारी का गढ़ माना जाता है।

बंगाल में 8 फेज में चुनाव
पश्चिम बंगाल में इस बार 8 फेज में वोटिंग होगी। 294 सीटों वाली विधानसभा के लिए वोटिंग 27 मार्च (30 सीट), 1 अप्रैल (30 सीट), 6 अप्रैल (31 सीट), 10 अप्रैल (44 सीट), 17 अप्रैल (45 सीट), 22 अप्रैल (43 सीट), 26 अप्रैल (36 सीट), 29 अप्रैल (35 सीट) को होनी है। काउंटिंग 2 मई को की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed