सहरसा में बेहतर पुलिसिंग सवालों के घेरे में, दिनदहाड़े लूट व छिनतई से मचा दहशत

रिपोर्ट: रितेश कुमार

सहरसा में बेख़ौफ़ अपराधियों का तांडव देखने को मिल रहा है। बाइक सवार अपराधियों ने 18 घंटे के अंदर लूट व छिनतई की तीन घटना को अंजाम देकर पुलिस को खुलेआम दी चुनौती। पहली घटना कल देर शाम की है जब पार्सल भान से डिलेवरी देने जा रहे बाबुल कुमार से हथियार के बल पर 10 हजार रुपया और दो मोबाईल हवाई अड्डा के समीप से लूट लिया। वहीं दूसरी घटना शहर के मुख्य बाजार डीबी रोड की है। जहां PNB बैंक से 40 हजार की निकासी कर वापस लौट रही महिला उसे बाइक सवार ने अपराधियों ने छीन कर फरार हो गया। वही तीसरी घटना शिक्षक संघ रोड की है जहां हथियार बंद अपराधियों मोबाइल एजेंसी के कर्मचारी को गोली मारकर 7 लाख रुपैये लूट कर फरार हो गया। दरअसल मीरा टॉकीज रोड स्थित मोबाइल एजेंसी से सात लाख रुपये लेकर कर्मचारी सुनील कुमार ठाकुर को बैंक ऑफ बड़ौदा जा रहा था। उसी समय पूर्व से घात लगाये दो मोटरसाइकिल सवार चार अपराधियों ने शिक्षक संघ रोड से आगे विशाल मेगा मार्ट के तरफ जाने वाली रोड में गोली मारकर सात लाख रुपये लुट लिये। घटना के बाद मौजूद लोगों ने तत्काल जख्मी को निजी नर्सिंग होम में लाया, जहां उसकी इलाज चल रही है। घटना के बारे में घायल सुनील ठाकुर की माने तो वह मीरा टॉकीज रोड स्थित मोबाइल एजेंसी से सात लाख रुपये बैंक ऑफ बड़ौदा में जमा करने जा रहे थे उसी समय दो बाइक पर सवार चार अपराधी गोली मारकर रुपैये लूट कर फरार हो गया। वहीं दूसरी घटना में पीड़िता नजराना खातून ने बताई की वह PNB बैंक से40 हजार रुपैये निकाल लौट रहे थे, उसी समय बाइक सवार अपराधियो झोला में रखा रुपये छीन कर फरार हो गया। वहीं मौके पर मौजूद अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी ने भी कहा कि अपराधियों ने लूट व छिनतई की घटना को अंजाम दिया है। पुलिस पूरी घटना पर तफ़्तीश शुरू कर दिया है, शीघ्र ही अपराधी पुलिस के गिरफ्त में रहेगा। सच मायने में जिस तरह बेलगाम अपराधियों ने एक एक कर लूट की घटना को अंजाम दिया उससे साफ लगता है कि सहरसा में पुलिस का ख़ौफ़ समाप्त हो चुका है। जरूरत है पुलिस को ऐसे घटना को नियंत्रित करने की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed