वैक्सीन के इमरजेंसी यूज पर विचार कर रही सरकार; 8 राज्यों के CM के साथ बात कर सकते हैं पीएम

देश में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 91 लाख के पार हो गया है। अब तक 91 लाख 39 हजार 560 लोग संक्रमित हो चुके हैं। राहत की बात है कि इनमें 85 लाख 60 हजार 625 लोग ठीक हो चुके हैं। अभी 4 लाख 43 हजार 125 मरीजों का इलाज चल रहा है। संक्रमण के चलते जान गंवाने वालों की संख्या अब 1 लाख 33 हजार 750 हो गई है। रविवार को 24 घंटे के अंदर 43 हजार 652 नए मरीज मिले। 40 हजार 586 लोग रिकवर हुए और 487 की मौत हो गई।

इस बीच, केंद्र सरकार ने जल्द से जल्द कोरोना वैक्सीन को लोगों तक पहुंचाने के लिए तैयारियां तेज कर दी हैं। न्यूज एजेंसी ने सूत्रों के हवाले बताया कि केंद्र सरकार कोविड-19 वैक्सीन के इमरजेंसी यूज पर भी विचार कर रही है। मतलब तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रायल के बाद अगर सबकुछ सही रहा तो सरकार वैक्सीन के इमरजेंसी यूज के लिए मंजूरी दे सकती है।

इमरजेंसी यूज के लिए नियम बनेगा
केंद्र सरकार की ओर से वैक्सीन को लेकर बनाई गई टीम ने पिछले दिनों बैठक की। बताया जाता है कि इसमें वैक्सीन के प्राइज, खरीददारी, वैक्सीनेशन प्रॉसेस, स्टोरेज आदि मसलों पर बातचीत की गई। इसमें नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) विनोद पॉल, सरकार के चीफ साइंटिफिक एडवाइजर के. विजय राघवन और केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण शामिल हुए थे। इसी में वैक्सीन के इमरजेंसी यूज को लेकर भी चर्चा हुई। तय हुआ कि वैक्सीन के इमरजेंसी यूज की मंजूरी देने के लिए कुछ नियम बनाए जाएंगे।

मंगलवार को मुख्यमंत्रियों के साथ कॉन्फ्रेंसिंग कर सकते हैं मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को 8 राज्यों के मुख्यमंत्रियों और केंद्र शासित राज्य के प्रतिनिधियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग पर बातचीत कर सकते हैं। न्यूज एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से यह जानकारी दी। बताया कि प्रधानमंत्री दो बैठकें करेंगे। सबसे पहले संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित 8 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से कॉन्फ्रेंसिंग होगी। दूसरी मीटिंग में अन्य राज्यों और केंद्र शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों या प्रतिनिधियों से बातचीत होगी। इसमें वह वैक्सीन के वितरण प्रक्रिया, दूसरी लहर के रोकथाम जैसे मुद्दों पर बात करेंगे।

 

अपडेट्स

  • महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने राज्य में दोबारा तेजी से बढ़ते कोविड मामलों पर चिंता जताई है। उन्होंने कहा की कोरोना की दूसरी लहर सुनामी जैसी होगी। उद्धव ने कहा कि संक्रमण से बचाव के फिलहाल सिर्फ तीन उपाय हैं। मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग, और हैंड सैनिटाइजेशन। जब तक कोविड की वैक्सीन नहीं आती तब तक इसका पूरा ख्याल रखना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे नाइट कर्फ्यू लागू करने की सलाह दी जा रही है, लेकिन मैं कानून लागू करने में विश्वास नहीं करता। लोगों को खुद एहतियात बरतनी चाहिए।
  • नॉर्थ दिल्ली म्युनिसिपल कॉरपोरेशन, रोहिणी जोन ने 30 नवंबर तक जनता मार्केट को सील कर दिया है। यहां भारी भीड़ देखने को मिली थी। लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन नहीं किया और बगैर फेस मास्क भी दिखे।
  • उत्तराखंड की राज्यपाल बेबी रानी मौर्या कोविड पॉजिटिव पाई गई हैं। उन्होंने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी। बेबी रानी मौर्या ने लिखा, ”मेरी कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मैं एसिंप्टोमैटिक हूं और कोई परेशानी नहीं है। डॉक्टर्स की निगरानी में मैंने खुद को आइसोलेट कर लिया है। आप में से जो भी लोग पिछले कुछ दिनों में मेरे संपर्क में आएं हैं, कृपया सावधानी बरतें और अपनी जांच करवाएं।”
  • महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम अजित पवार ने रविवार को कहा, ‘दिवाली के दौरान पूरे प्रदेश में भीड़ देखने को मिली। गणेश चतुर्थी के दौरान भी ऐसी ही भीड़ देखने को मिली थी। हम संबंधित विभागों से बात कर रहे हैं। फिलहाल हम पूरे हालात पर नजर बनाए हुए हैं। अभी 8-10 दिन हम हालात की समीक्षा करेंगे और उसके बाद लॉकडाउन लगाने को लेकर कोई फैसला लिया जाएगा।’
  • उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना संक्रमितों की पहचान के लिए बड़ा फैसला लिया है। अब दिल्ली से उत्तर प्रदेश जाने वाले सभी यात्रियों का कोरोना टेस्ट होगा। चीफ सेक्रेटरी आरके तिवारी ने बताया कि फ्लाइट, बस और ट्रेन से आने वाले सभी यात्रियों की जांच होगी। इसके अलावा शादियों में मेहमानों की संख्या पर भी प्रतिबंध लगा दिया है। अब 200 की जगह 100 गेस्ट ही शादी समारोह में शामिल हो पाएंगे।
  • दिल्ली में भले ही पिछले 3 दिनों से एक्टिव केस नहीं बढ़ रहे हैं लेकिन इससे सटे राज्यों में हालात खराब होने लगे हैं। खासतौर पर उत्तर प्रदेश, हरियाणा, उत्तराखंड और पंजाब में। इन राज्यों में पिछले कई दिनों से एक्टिव केस में बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed