उत्तर प्रदेश: प्रदेश के सभी जिला सहकारी बैंकों को उत्तर प्रदेश सहकारी बैंक में जल्द से जल्द विलय किये जाने की मांग

रिपोर्ट : बिस्मिल्लाह खान

अयोध्या संपूर्ण सहकारी बैंकों को उत्तर प्रदेश सहकारी बैंक में विलयीकरण की मांग तेज हो गई है, संगठन की बैठक में प्रदेशभर से मुख्यमंत्री को मांग पत्र भेजने का निर्णय लिया गया, जिसके बाद कोआपरेटिव बैंक इंप्लाइज यूनियन के प्रदेश महामंत्री सुधीर सिंह की अगुवाई में मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन सौंपा गया।प्रदेश के सभी जिला सहकारी बैंकों को उत्तर प्रदेश सहकारी बैंक में जल्द से जल्द विलय किये जाने की मांग को लेकर कोआपरेटिव बैंक इम्पलाइज यूनियन के प्रदेश महामंत्री सुधीर सिंह के नेतृत्व में कर्मचारियों ने जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपा। यूनियन की ओर से मुख्यमंत्री को प्रेषित किये गये ज्ञापन में कहा गया है कि प्रदेश के जिला सहकारी बैंकों की 1335 शाखाओं एंव शीर्ष की 29 शाखाओं का व्यापक प्रदेश स्तरीय आधार है तथा यह बैंक प्रदेश की 7439 पैक्स में से अधिकांश पैक्स के माध्यम से कृषि ऋण का वितरण कर रही है एंव इसी के साथ अन्य कृषि आधारित उद्योगों एंव विवधीकरण के अन्तर्गत ऋण पोषित कर रहे हैं। प्रदेश के जिला सहकारी बैंकों को अल्पकालीन सहकारी ऋण संरचना को मजबूत करने की संस्तुतियों एवं वित्तीय सहायता के बावजूद मजबूत सहकारी ऋण ढांचा नहीं खड़ा हो पाया इसलिये जल्द से जल्द समस्त जिला सहकारी बैंकों को उत्तर प्रदेश सहकारी बैंक में विलय किया जाये ताकि भविष्य में आने वाली समस्याओं का निस्तारण ही न हो वरन कर्मचारियों को लाभ हो सके। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर कमेठी का गठन हुआ है और कमेठी में अपनी रिपोर्ट भी दे दी है और यह रिपोर्ट शासन में लंबित पड़ी है। उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की है कि जल्द से जल्द विलय की प्रक्रिया पूरी की जाये।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed