हाथरस गैंगरेप मामले पर प्रशांत कुमार एडीजी ने कहा, घर की सहमति से पीड़िता का अंतिम संस्कार रात में किया गया।

उत्तर प्रदेश  :   कल सुबह पीड़िता की मृत्यु हो गई थी और देर रात पोस्टमार्टम के बाद जब शव पहुंचा तो परिवार वालों की सहमति से और उनकी उपस्थिति में अंतिम संस्कार कराया गया था : हाथरस गैंगरेप मामले पर प्रशांत कुमार, एडीजी ( लॉ एंड ऑर्डर )

कुछ महिलाओं द्वारा आरोप लगाए गए हैं, परन्तु सत्य यही है कि उनकी उपस्थित से और सहमति से (अंतिम संस्कार) कराया गया था। शांति व्यवस्था के लिए वहां पुलिस उपस्थित थी। डेड बॉडी भी खराब हो रही थी, इसलिए घर के लोगों ने सहमति जताई थी कि रात को ही कर देना उचित होगा : एडीजी ( लॉ एंड ऑर्डर )

यूपी सरकार ने हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिवार को 25 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देगी।

हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिवार को 25 लाख रुपये की आर्थिक सहायता के साथ-साथ घर और परिवार के एक सदस्य को कनिष्ठ सहायक पद पर नौकरी की घोषणा की गई है। फास्ट ट्रेक कोर्ट में मुकदमें की सुनवाई और SIT की 3 सदस्यीय कमेटी द्वारा जांच को अनुमति दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed